UP Police Recruitment 2020

Created on: 2020-10-04 05:03:37 | Author: Sanjeev Mishra | Home Page | Jobs

Ballia: यूपी पुलिस, पीएसी एवं अग्निशमन विभाग में रिक्त 9,534 रिक्त पदों पर सीधी भर्ती की प्रक्रिया तेज हो गई है. उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड इसके लिए जनवरी 2021 में परीक्षाएं कराने की तैयारी कर रहा है. इस भर्ती प्रक्रिया में नागरिक पुलिस में सब इंस्पेक्टर, पीएसी में प्लाटून कमांडर और अग्निशमन विभाग में अग्निशमन द्वितीय अधिकारी के पद शामिल हैं। इसमें सबसे ज्यादा 9,027 पद सब इंस्पेक्टर के हैं. 484 पद प्लाटून कमांडर के हैं। अग्निशमन द्वितीय अधिकारी के 23 पद हैं.

इन पदों पर होनी है भर्ती- उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रमोशन बोर्ड का यूपी पुलिस में एसआई के 9027 पदों (संशोधित), पीएसी में प्लाटून कमांडर के 484 पदों और अग्निशमन विभाग में अग्निशमन द्वितीय अधिकारी के 23 पदों सहित कुल 9534 (संशोधित) पदों पर सीधी भर्ती करने की योजना है.

सिर्फ दो ही फर्मों का टेंडर प्राप्त होने से परीक्षा एजेंसी के चयन की प्रक्रिया दो बार आगे बढ़ाई गई

9027 पद सब इंस्पेक्टर के भरे जाएंगे, पहले पदों की संख्या 5623 थी

484 प्लाटून कमांडर के पदों पर भर्ती होगी

23 पद अग्निशमन द्वितीय अधिकारी के

शारीरिक दक्षता परीक्षा में छूटे हुए अभ्यर्थियों की परीक्षा आज होगी

पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड ने छह मार्च 2020 को आयोजित शारीरिक दक्षता परीक्षा में प्रत्यावेदन प्रस्तुत कर भाग न लेने वाले अभ्यर्थियों को एक और मौका दिया है. नागरिक पुलिस में सब इंस्पेक्टर, पीएसी में प्लाटून कमांडर व कांस्टेबल के पदों पर भर्ती के लिए इन अभ्यर्थियों की शारीरिक दक्षता परीक्षा 25 सितम्बर को होगी. यह जानकारी बोर्ड के अपर सचिव (भर्ती) ने दी। उन्होंने बताया कि पुनर्निधारित तिथि

एवं समय पर परीक्षा में शामिल न होने वाले अभ्यर्थियों को दूसरा मौका नहीं दिया जाएगा। यह परीक्षा शुक्रवार को सुबह 7.30 बजे रिजर्व पुलिस लाइंस लखनऊ में आयोजित की जाएगी.

एजेंसी के कार्य- भर्ती प्रक्रिया को पूरा कराने के लिए जिस एजेंसी या फर्म का बोली के तहत चुनाव किया जाएगा वह एजेंसी निम्न कार्यों को सम्पादित करेगी. जैसे-

भर्ती के लिए आवेदन पत्र प्राप्त करना.

परीक्षा के लिए क्वेश्चन बैंक बनाना.

एडमिट कार्ड जारी करना.

परीक्षा करवाना और चयनित अभ्यर्थियों की फाइनल लिस्ट बनाने जैसे अन्य कार्य एजेंसी के जरिए ही सम्पादित किए जाएंगे.

Share on Facebook || Tweet on Twitter